Sunday, September 26, 2021

हरियाणा सैकेंडरी ओपन की परीक्षा का परिणाम घोषित

Must read

भिवानी। हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड द्वारा प्रदेशभर में संचालित हरियाणा मुक्त विद्यालय परीक्षा मार्च-2020 की सैकेण्डरी (फ्रैश) एवं सब्जैक्ट टू बी क्लीयर (सी.टी.पी.)/(रि-अपीयर) परीक्षा का परिणाम, आज 17 जुलाई, 2020 को घोषित किया गया है। परीक्षार्थी अपना परीक्षा परिणाम बोर्ड की वेबसाईट www.bseh.org.in पर सांय 4.30 बजे से देख सकते हैं।
इस परीक्षा परिणाम की घोषणा करते हुए बोर्ड अध्यक्ष डॉ. जगबीर सिंह एवं सचिव श्री राजीव प्रसाद, ह.प्र.से. ने सयुक्त रूप से आज यहाँ बताया कि लॉकडाउन(कोविड-19 महामारी) से पूर्व सैकेण्डरी मुक्त विद्यालय (फ्रैश) मार्च-2020 की परीक्षा के केवल चार विषयों की परीक्षा ही संचालित करवाई जा सकी थी। उन्होंने आगे बताया कि सैकेण्डरी मुक्त विद्यालय (फ्रैश)का परिणाम 16.92 फीसदी तथा सैकेण्डरी मुक्त विद्यालय (सी.टी.पी./रि-अपीयर) मार्च-2020 की परीक्षा का परिणाम 39.65 फीसदी रहा है।
    बोर्ड अध्यक्ष ने बताया कि सैकेण्डरी मुक्त विद्यालय (फ्रैश) की परीक्षा में 16,915 परीक्षार्थी प्रविष्ठ हुए थे, जिनमें से 2,862 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए तथा 14053 परीक्षार्थियों की रि-अपीयर आई है। इस परीक्षा में 11545 लडक़े बैठे थे, जिनमें से 2032 पास हुए, इनकी पास प्रतिशतता 17.60 रही है, जबकि 5,369 प्रविष्ठ लड़कियों में से 829 पास हुई, इनकी पास प्रतिशतता 15.44 रही है। उन्होंने बताया कि इस परीक्षा में लडक़ों ने लड़कियों की अपेक्षा पास प्रतिशतता में 2.16 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की है तथा ग्रामीण क्षेत्र के परीक्षार्थियों की पास प्रतिशतता 18.27 रही है, जबकि शहरी क्षेत्र के परीक्षार्थियों की पास प्रतिशतता 13.32 रही है।
    बोर्ड सचिव ने बताया कि सैकेण्डरी मुक्त विद्यालय (सी.टी.पी./रि-अपीयर) की परीक्षा में 64,367 परीक्षार्थी प्रविष्ठ हुए थे, जिनमें से 25,522 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए तथा 38,845 परीक्षार्थियों की रि-अपीयर आई है। इस परीक्षा में 38,426 लडक़े बैठे थे, जिनमें से 15,191 पास हुए, इनकी पास प्रतिशतता 39.53 रही है, जबकि 25,941 प्रविष्ठ लड़कियों में से 10,331 पास हुई, इनकी पास प्रतिशतता 39.82 रही है। उन्होंने बताया कि लड़कियों ने लडक़ों की अपेक्षा पास प्रतिशतता में 0.29 प्रतिशत की बढ़ोतरी अर्जित की है तथा ग्रामीण क्षेत्र के परीक्षार्थियों की पास प्रतिशतता 39.35 रही है, जबकि शहरी क्षेत्र के परीक्षार्थियों की पास प्रतिशतता 40.57 रही है।
श्री राजीव प्रसाद ने बताया कि इन परीक्षा परिणामों के आधार पर जो परीक्षार्थी अपनी उत्तरपुस्तिकाओं की पुन: जाँच अथवा पुनर्मूल्यांकन करवाना चाहते हैं वे ऑनलाईन आवेदन कर सकते हैं। पुन: जाँच/पुनर्मूल्यांकन निर्धारित शुल्क सहित परिणाम घोषित होने की तिथि से 20 दिन तक ऑनलाईन आवेदन  किया जा सकता हैं।

- Advertisement -spot_img

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article